एक माँ का दर्द जब उसे बताया गया की उसकी बेटी को मानव बम बनाया जायेगा !!!!!!

एक माँ का दर्द जब उसे बताया गया की उसकी बेटी को मानव बम बनाया जायेगा !!!!!!

पिछले साल केरला से गायब होने वाली लड़कियों में एक लड़की श्रीमती बिंदु की भी है | जिसका आजतक कुछ पता नई चला है | बिंदु जी की बेटी निमिषा जो की बाद में फातिमा बन गयी थी उन्हें लगता है आज भी सुरक्षित है और लौट कर वापिस जरूर आएगी | निमिषा पढ़ने में होशियार थी और डेंटिस्ट बनने के लिए उसने कॉलेज में एडमिशन भी लिया था और बिंदु जी को इस बात की ख़ुशी थी की उनकी बेटी का भविष्य अच्छा है | लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था | उनकी बेटी को शाजिद नाम के लड़के से प्यार हो गया ,और उसने शादी करने का वादा भी किया लेकिन अगर वो इस्लाम कबूल करे तो | लेकिन साजिद की वजाय निमिषा ने बेक्सन नाम के आदमी से शादी की जिससे शाजिद ने ही निमिषा से मिलवाया था | बेक्सन खुद भी ईसाई से मुस्लिम बना था |

बेक्सन बिज़नेस के लिए बाहर जाना चाहता था लेकिन श्रीमती बिंदु अपनी गर्भवती बेटी को उसके साथ नई ले जाना चाहती थी लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी | निमिषा और बेक्सन श्री लंका चके लिए निकल गए | कुछ दिनों के बाद निमिषा की कॉल आनी बंद हो गयी अब बस whatspp

पे messages आते थे और कुछ दिनों बाद वो भी बंद हो गए | जब श्रीमती बिंदु ने बेक्सन के परिवार वालों से संपर्क किया तो उन्होंने एक चौकाने वाली बात कही जिससे सुनकर उन्हें आजतक नींद नहीं आती उन्होंने बताया की बेक्सन तुम्हारी बेटी को अफगानिस्तान ले गया है जहाँ उससे सुसाइड बम बनाया जायेगा |

इसके बाद श्रीमती बिंदु को पता चला 18 अगस्त को निमिषा ने बच्चे को जनम दिया और और 12 नवंबर को बेक्सन ने अपने परिवार को फ़ोन करके बताया की वो nagarhale में हैं और उनकी ग्रुप की और औरतें कही और हैं | उसके बाद श्रीमती बिंदु ने ग्रुप में सबसे संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनकी बेटी का आजतक कोई पता नहीं चला ही और उन्हें इस बात की आज भी पूरी उम्मीद है की उनकी बेटी जरूर वापिस आएगी और वो उसे दौड़ के गले लगा लेगी |



Share it
Top
To Top